Advertising

PBN (private blog network) kya hota hai puri jankari hindi me

Share:
PBN जिसे privet blog network भी कहा जाता है और इसका इस्तेमाल ब्लॉगिंग की दुनिया मे किया जाता है । pbn में गूगल को चकमा दे कर फ्री के बकलिंक्स बनाये जाते है बाकी PBN की a to z जानकारी नीचे है बो भी हिंदी में

PBN ( private blog network ) kiya hota hai puri jankari hindi me
PBN ( private blog network ) kiya hota hai puri jankari hindi me


दुनिया मे कई लोग PBN ( private blog network )  का इस्तेमाल करते है
PBN का मतलब होता है खुद का private नेटवर्क  ।
जिसके बारे में आपके सिवा कोई और न जानता हो ।


PBN किया होता है ।


PBN का सीधा सा मतलब है खुद का बहुत बड़ा नेटवर्क बनाना । जब कोई एक ब्लॉगर 100 ब्लोग्स बनाता है और उन ब्लोग्स के बारे में उसके सिबा कोई और नही जनता उसके सभी ब्लोग्स अलग अलग नाम और domain ओर hosting plartform पर है उसके हर ब्लॉग के author का नाम अलग सभी ब्लोग्स अलग अलग ईमेल पर है और उस ब्लॉगर के सिवा ये बात कोई और नही जानता कि उसके पास 100 ब्लोग्स है तो इसी को PBN यानी privet blog network कहा जाता ।
PBN का ज्यादा इस्तेमाल बड़ी बड़ी कम्पनिया करती है PBN में किसी एक person या कम्पनी के पास बहुत सारे वेबसाइट या ब्लोग्स होते है और ये बात उनके सिबा किसी ओर को पता नही होती है तो इसी को pBN कहा जाता है । अब बात करते है कि PBN का इस्तेमाल कहाँ किया जाता है और क्यों किया जाता है


PBN ( privet blog network ) का इस्तेमाल कहाँ किया जाता है और क्यों किया जाता है ।


एक बात तो आप समझ गए होंगे जी PBN का इस्तेमाल online होता है लेकिन आपको ये पता नही होगा कि PBN का इस्तेमाल ऑनलाइन कहाँ किया जाता है तो आगे मैंने इसकी पूरी जानकारी दी है ।
PBN का इस्तेमाल backlinks बनाने के लिए किया जाता है जी हां और अगर आप backlinks के बारे में नही जानते कि बैकलिंक किया होते है और ये कैसे बनाये जाते है तो आप हमारी ये पोस्ट पढ़े बैकलिंक किया होते है और ये कैसे बनाए जाते है ।

अब  आप जान गए होंगे कि backlink किया होते है और ये किसी वेबसाइट या ब्लॉग के लिए कितने जरूरी होते है   ।


Backlink में PBN का इस्तेमाल क्यों होता है ।


जब भी कोई PBN बनाता है तो उसका सिर्फ एक ही मकसद होता है backlinks बनाना जी हां बो इतना बड़ा नेटवर्क सिर्फ backlink के लिए बनाते है और backlink से उनकी ब्लॉग का seo बहुत अच्छा हो जाता है और उनके ट्रैफिक में change आते है एक तो उनकी ब्लॉग और वेबसाइट पर search engine से ट्रैफिक अच्छा आता है और उनकी रैंकिंग टॉप पर जाती है और साथ मे अन्य PBN से उसकी ब्लॉग पर बहुत सारा ट्रैफिक आता है । अब बात करते है जी PBN यानी privet blog network कैसे बनाया जाता है ।

PBN यानी privet blog network कैसे बनाया जाता है ।


PBN को बनाने में बहुत ज्यादा मेहनत लगती है ।
ओर pbn के लिए कम से कम 100 से ज्यादा वेबसाइट को बनाया जाता है । PBN का एक छोटा सा example 
मान लो मुझे  10 ब्लोग्स का PBN बनाना है तो उसके लिए मुझे कम से कम 5 ईमेल की जरूरत है ओर बो भी अलग अलग नाम से क्योंकि अगर गूगल को इस बात का पता चल जाये कि ये सभी किसी एक कि वेबसाइट है और ये PBN से अपनी ब्लॉग के लिए backlink बना रहा है तो गूगल हमारी सभी वेबसाइट को penalize कर सकता है यानी हमारी सभी वेबसाइट गूगल से डिलीट हो जाएगी और हमारी सारी मेहनत बेकार हो जाएगी ।
तो इसी के लिए हमे अलग ईमेल का इस्तेमाल करना पड़ेगा ।
अब मान लो मैंने 5 ईमेल पर 10 ब्लोग्स बनाई और बो भी अलग अलग नाम से तो अब मैंने एक PBN बना लिया है और इन ब्लोग्स के बारे में किसी को नही बताऊंगा की ये मेरी ब्लोग्स है । अब बात करते है कि मेरा बनाया गया PBN काम कैसे करेगा


PBN काम कैसे करता है ।


मैंने 10 ब्लोग्स बना ली है और अब मुझे उन सभी का इस्तेमाल करना है तो उसके लिए सबसे पहले मुझे मेरी 10 ब्लोग्स पर अच्छे अच्छे 5-5 आर्टिक्ल डालने है और बो भी अलग अलग टॉपिक पर ओर फिर उनको किसी भी तरह रैंक करवाना है मान लो मैन हर ब्लॉग से 2-2 पोस्ट को रैंक कर लिया है तो अब बारी आती है PBN को इस्तेमाल करने की यानी backlink बनाने की तो बकलिंक्स बनाने के लिए मुझे मेरे PBN यानी उन 10 ब्लोग्स में मेरी मुख्य वेबसाइट का लिंक देना है जिस से मुझे पैसे कमाने है या मान लो मेरी इसी ब्लॉग पर जिस पर आप पोस्ट पढ़ रहे है ।
तो उन सभी ब्लोग्स से बैकलिंक लेने के लिए मैने उनमे myhindiworld12 का लिंक दे दिया अब उस PBN से मेरी ब्लॉग पर 2 तरह से बैकलिंक आएंगे एक तो अगर मुझे किसी पोस्ट को रैंक करवाना है तो मैं सिर्फ उस पोस्ट का लिंक ही PBN में दूंगा ओर अगर मुझे ब्लॉग को रैंक करवाना है तो मै अपनी ब्लॉग का लिंक उन 10 ब्लोग्स में डालूंगा तो बस इसी तरीके से मेरी ब्लॉग पर बैकलिंक आएंगे और मेरी ब्लॉग रैंक करेगी   ।
PBN का एक छोटा सा example नीचे फ़ोटो में भी है 
PBN ( private blog network ) kiya hota hai puri jankari hindi me
PBN ( private blog network ) kiya hota hai puri jankari hindi me

तो फ़ोटो में भी PBN वेबसाइटस से उस main वेबसाइट पर backlink बन रहे है जहाँ से पैसे कमाने है ओर जो वेबसाइट public है यानी इस वेबसाइट के बारे में हर कोई जानता है कि ये मेरी है । अब बात करते है कि PBN बनाने में लगभग खर्चा कितना आएगा ।


PBN बनाने में खर्चा कितना आएगा ।


खर्चे की बात करे तो ये आप पे निर्भर करता है कि आप कितना बड़ा PBN बनाते है यदि आप 10 ब्लॉग का नेटवर्क बनाते है तो आपका खर्च कम आएगा और अगर बड़ा नेटवर्क बनाते है तो आपका खर्च जाएद आएगा PBN में आपको अलग अलग ईमेल ओर अलग अलग ब्लॉगिंग ओर होस्टिंग पलर्टफ़ोर्म ओर डोमेन्स का इस्तेमाल करना पड़ता है लेकिन ज्यादातर PBN expire डोमेन नेम से बनाया जाता है उन expire domain से जिनकी रैंकिंग ओर बैकलिंक बने हुए होते है लेकिन उन्हें उनके owner renew करवाना भूल जाते है तो ज्यादातर PBN expire डोमेन्स नेम से ही बनाये जाते है इसके अलावा अगर फ्री में PBN बनाना चाहते है तो आप blogger ओर वर्डप्रेस पर बिना डोमेन ओर होस्टिंग के भी PBN बना सकते है बस अगर एक बार PBN काम करने लग जाये तो आप इससे पैसे भी कमा सकते है कई बड़ी कम्पनिया या वेबसाइट PBN की मदद से पैसे कमाती है इसकी जानकारी नीचे दी गई है


PBN से पैसे कैसे कमाए जाते है ।


आपको एक बात का तो पता होगा ही कि इंटरनेट पर कई ऐसे वेबसाइट है जो कि बकलिंक्स को बेचते है बी 100 बैकलिंक देते है  ओर 5 डॉलर लेते है या कुछ भी। 
बो भी इसी तरीक़े का इस्तेमाल करते है जी हां बो पहले एक बहुत बड़ा PBN बनाते है और उस पर खर्च करते है उसके बाद बो बैकलिंक बेचते है बैकलिंक देने के लिए बो सिर्फ PBN में आपकी ब्लॉग का लिंक add करेंगे और आपकी ब्लॉग पर बैकलिंक आना शुरू हो जाएंगे तो आप PBN बना के भी पैसे कमा सकते है  अब बात करते है कि PBN से आपकी main वेबसाइट को खतरा तो नही है जिस को आप बैकलिंक ले रहे है


PBN से main वेबसाइट को खतरा तो नही है ।


पोस्ट पढ़ते समय आपके दिमाग मे एक सवाल जरूर आया होगा की अगर गूगल को पता चल गया कि मैं स्पैमिंग कर रहा हु ( गूगल की नजर में ये स्पैमिंग है ) तो गूगल तो मेरी ब्लॉग को penalize कर देगा ।
वैसे मैं आपको बता दु की शायद ही गूगल को इस बात का पता चले कि आप PBN का इस्तेमाल करके बैकलिंक बना रहे लेकिन फिर भी मैं आपको एक ओर तरीका बताता हूं जिससे गूगल शायद ही आप तक पहुँच पाए या इस बात का पता लगा पाए कि आप PBN का इस्तेमाल कर रहे है
तो मान लो मैन 10 ब्लॉग का PBN बनाया है तो तो अब मुझे इस PBN का कुछ इस तरह से इस्तेमाल करना है कि मैं गूगल को चकमा दे दु ओर बैकलिंक ले लू तो उसके लिए मैं पहले सभी ब्लॉग्स पर पोस्ट लिखूंगा लेकिन उन सभी ब्लोग्स में अपनी मुख्य वेबसाइट का लिंक नही दूंगा मैं पहले पांच ब्लोग्स में अपनी PBN की अगली 3 ब्लॉग्स का लिंक दूंगा ओर फिर उन 3 ब्लोग्स में अपनी अगली 2 PBN की ब्लोग्स का लिंक दूंगा ओर फिर उन दो में अपनी मुख्य वेबसाइट का लिंक दूंगा अब सीधी सी बात है कि गूगल 99% इस बात का पता नही लगा पायेगा की आप PBN का इस्तेमाल कर रहे है क्योंकि आपकी मुख्य वेबसाइट पर जो बैकलिंक बन रहे है बो पिछली10 वेबसाइट से होकर आ रहे है और अगर गलती से आपकी वेबसाइट google penalize कर भी दे तो आपकी मुख्य वेबसाइट तक गूगल नही पहुंच सकता सबसे पहले उसे आपकी पहली पांच वेबसाइट का लाता लगाना पड़ेगा और उसके बाद फिर 3 का ओर उसके बाद फिर 2 ओर वेबसाइट का ओर ये शायद ही सम्भब हो सके क्योंकि तब तक आपके ओर वेबसाइट से भी बैकलिंक बन चुके होंगे तो इस तरीके से शायद ही गूगल आपकी वेबसाइट को penalize कर पाए 
PBN ( private blog network ) kiya hota hai puri jankari hindi me
PBN ( private blog network ) kiya hota hai puri jankari hindi me


 लेकिन अगर आप पिछले तरीके का इस्तेमाल करते है जिसमें सीधे 10 के 10 यानी पूरे PBN से बैकलिंक बनेंगे उसमे भी आपकी वेबसाइट का penalize होना बहुत मुश्किल है । हालांकि गूगल का algorithm अब strict हो रहा है अगर आगे इसमे चेंज आये तो इस पहले बाले तरीके में खतरा हो सकता है लेकिन जो मैंने आपको दूसरा तरीका बताया है उसमे आपको कोई चिंता लेने की जरूरत नही है और इस तरीके से आपकी स्पैमिंग भी नही होगी ।


Last words :- 


आज मैंने आपको PBN यानी प्राइवेट ब्लॉग नेटवर्क की पूरी की पूरी जानकारी दी ये पोस्ट आपको किसी लगी जरूर बताएं ओर अपने सवाल कमेंट में पूछे ।
#happy_blogging
#hindi_blogger
#myhindiworld12